शुक्र मंत्र फॉर लव मैरिज

शुक्र मंत्र फॉर लव मैरिज

जीवन में शुभ ग्रह का अपना अलग ही महत्व है  शुक्र ग्रह सभी प्रकार के सुख दुख  सुविधाएं तथा आर्थिक संपदा को दिखाता है तथा शुक्रवार को जहां एक ओर माता लक्ष्मी से जोड़कर देखा जाता है वही शुक्र ग्रह की अशुभ होने से आपको कष्ट तथा धन हानि हो सकती है और इसके उच्च होने से यह आपको लक्ष्मी का पात्र बना सकता है आज हम आपको धन प्राप्ति हेतु तथा आपकी हर प्रकार की समस्याओं के निवारण हेतु शुक्र मंत्रों का प्रयोग बताने जा रहे हैं। आज हम आपको इलायची से शुक्र मंत्र का जाप का एक खास उपाय बताने जा रहे हैं जो आपको धन संपत्ति सहित आपकी हर समस्याओं को दूर करने के साथ-साथ आपकी हर मनोकामनाओं को पूरी करेगा तथा  आप इसे किसी भी शुक्रवार को कर सकते हैं लेकिन ध्यान रहे बस कि इस अनुष्ठान को रात्रि में 8:00 बजे के बाद ही करें तभी यह उचित प्रभाव  से फल देता है।

शुक्र मंत्र फॉर लव मैरिज
शुक्र मंत्र फॉर लव मैरिज

उपाय:-

यह साधना करने से पहले शाम को अच्छी तरह से स्नान कर स्वच्छ होकर स्वच्छ वस्त्र धारण कर आसन लगा कर बैठ जाए तथा 3 हरी इलायची लें यदि आपके घर में  पूजा स्थल है तो वहां पर यह अनुष्ठान करें अगर पूजा स्थल घर मे  नहीं है तो गरुण पर सवार या कमल के आसन पर बैठी हुई लक्ष्मी मां की तस्वीर घर पर ले आए तथा  किसी शांत एवं साफ जगह पर स्थापित करें अब इस तस्वीर के सामने वह तीन इलायची रख दे अनुष्ठान शुरू करने से पूर्व अपने इष्ट देव का ध्यान करें फिर मां लक्ष्मी भगवान विष्णु का ध्यान करते हुए शुक्र देव से अपनी मनोकामना पूरी करने तथा सभी परेशानियों को दूर करने के लिए अपने मन में प्रार्थना करें एवं शुक्र मंत्र का 21 बार जाप करें तत्पश्चात सभी राशियों को अपने दाएं हाथ में ले ले और मुट्ठी बंद कर ले और घर के बाहर जाकर 3 चक्कर उल्टी दिशा में लगाएं अब पूजा घर जहां आपने पूजा की है वहां आकर बैठ जाए और सभी भगवान देवों नौ ग्रहों का ध्यान करते हुए अपनी समस्या भगवान के समक्ष रखें और उसको दूर करने के लिए प्रार्थना करें ऐसा करते हुए आपकी मुट्ठी उसी प्रकार बंद होनी चाहिए जैसे पहले थी तत्पश्चात इन इलाकों को किसी स्टील या तांबे के कटोरे में रखकर अपने घर के मुख्य द्वार पर ले जाएं वहां ऐसे कपूर पर रखकर जला दें जब यह जलकर खत्म हो जाए और इसकी राग बचे तो उसे तुलसी के पौधे में डाल दे तुलसी ना हो तो किसी भी पौधे में डाल सकते हैं दोनों ही ना होने पर आप इसे किसी बहती हुई जलधारा में प्रभावित कर दें कुछ ही दिनों में आपको इसका असर साफ दिखने लगेगा तथा आपके घर में धन ऐश्वर्य वैभव की वर्षा होने लगेगी एवं आपके समस्त समस्याएं स्वता ही समाप्त हो जाए।

मंत्र

ॐ द्रा द्री द्रौ सः शुक्राय नमः

शुक्र ग्रह मजबूत करने के उपाय:-

:-शुक्र ग्रह को मजबूत करने के लिए आप तो शुक्र संबंधित वस्तुओं को दान करना चाहिए

:- शुक्र ग्रह को मजबूत करने के लिए जातक को शुक्रवार के दिन गूलर की जड़ को किसी सफेद कपड़े में बांधकर अपने गले या बाएं हाथ में धारण करना चाहिए ऐसा करने से शुक्र ग्रह मजबूत होता है।

:- शुक्र ग्रह को मजबूत करने हेतु जातक को ओपल या हीरा धारण करना चाहिए।

:- शुक्र ग्रह को मजबूत बनाने के लिए जातक को हर शुक्रवार के दिन कौवे को चावल तथा बुरा चीनी खिलाना चाहिए तथा घर में शुक्र यंत्र स्थापित करना चाहिए यह करने से शुक्र ग्रह के समस्त दोष समाप्त हो जाते हैं।

:- शुक्र ग्रह को मजबूत करने के लिए जातक को शुक्र स्त्रोत का पाठ करना चाहिए एवं शुक्र कवच का पाठ शुक्रवार के दिन करना चाहिए जिससे शुक्र ग्रह मजबूत होता है तथा समस्त समस्याओं का हल प्रदान करता है

शुक्र को प्रसन्न करने के उपाय:-

शुक्र ग्रह को प्रसन्न करने के लिए बड़ी इलायची जल में उबालकर उसे स्नान करने वाले जल में मिला दे तथा उस जल से स्नान करें स्नान करने से व्यक्ति का शुक्र दोष से निवारण हो जाता है तथा शुक्र से संबंधित वस्तुओं का जैसे घी चावल आदि का दान किया जाता है शुक्र भोग-विलास से का कारक ग्रह है इसलिए सुखाराम की वस्तुएं भी दान की जा सकती है सिंगार की वस्तुओं को भी दान करना चाहिए  20 शुक्र को यह करके आप लक्ष्मी को प्रसन्न कर सकते  है दान करने वाले व्यक्ति में श्रद्धा और विश्वास होना आवश्यक है दान व्यक्ति को अपने हाथों से करना चाहिए। तथा सुबह स्नान कर स्वच्छ होकर आसन लगाकर श्लोक का पाठ करना चाहिए यह श्लोक अशोक गोचर की अवधि या शुक्र दशा मैं प्रतिदिन या शुक्रवार के दिन करना चाहिए । यह जाप अशुद्ध मुख से नहीं करना चाहिए ऐसा करने से यह विपरीत फल देता है

श्लोक:-

ओम जयंती मंगला काली भद्रकाली

दुर्गा क्षमा शिवा धात्री स्वाहा स्वधा

:- यदि आपके घर में लक्ष्मी की कमी है जिस कारण घर में सुख समृद्धि नहीं आ पाती तो आपको लक्ष्मी जी को मनाने के लिए प्रत्येक शुक्रवार को चावल की खीर बनाकर उसमें शक्कर की जगह मिश्री का प्रयोग करें या फिर 7 कन्याओं को खिलाएं तथा अपनी क्षमता अनुसार दक्षिणा प्रदान करें यह प्रयोग आपको 7 यह 11 यह 21 शुक्रवार करें आपके घर में लक्ष्मी का आगमन हो जाएगा।

:-यदि आप के विवाह में देरी हो रही है तथा विवाह नहीं हो पा रहा है जिस कारण अत्यंत परेशान हैं तो आपको हर दिन सुबह शाम भगवान विष्णु की पूजा करनी चाहिए कथा ओम लक्ष्मी नारायण नमः इस मंत्र का जाप करना चाहिए।

:-शीघ्र विवाह एवं उत्तम विवाह के लिए आप आप 16 शुक्रवार का व्रत रख सकते हैं तथा माता संतोषी से अपनी मनोकामना पूर्ण करने के लिए प्रार्थना कर सकते हैं यह अत्यंत इच्छा करने वाला  व्रत है इसके द्वारा मनुष्य की समस्त इच्छाएं पूर्ण हो जाती हैं धन लाभ माँ लक्ष्मी द्वारा प्राप्त होता है एव शीघ्र विवाह का योग बनता है ।

 

[Total: 6    Average: 4/5]